Waqt k bhi ajeeb kisse hai kisi ka

*✍वक़्त के भी अजीब किस्से है ,*

*किसी का कटता नही –*
*और,*
*किसी के पास होता नही !!**