Meer bando se kaam kab nikla

Meer bando se kaam kab nikla, , khuda aur mohabbat shayari lyrics lovesove

मीर’ बंदों से काम कब निकला माँगना है जो कुछ ख़ुदा से माँग