Chita bhsam se tera

चिता भस्म से तेरा नित नित हो श्रृंगार,
काल भी तेरे आगे हाथ जोड़ खड़ा लाचार।