Category: Mahakal Attitude Status


Hatho ki lakire

Hatho ki lakire

हाथों की लकीरें अधूरी हो तो किस्मत अच्छी नहीं होती, हम कहते हैं की सर पर हाथ महादेव का हो, तो लकीरों की ज़रूरत नहीं होती।

Yah kalyug

यह कलयुग हैं, यहाँ ताज अच्छाई को नही बुराई को मिलता हैं, लेकिन हम तो बाबा महाकाल के दीवाने हैं, ताज के नही रुद्राक्ष के दीवाने हैं।
Mai kal nahi

Mai kal nahi

मैं कल नहीं मैं काल हूँ, वैकुण्ठ या पाताल नहीं, मैं मोक्ष का भी सार हूँ, मैं पवित्र रोष हूँ, मैं ही तो अघोर हूँ, मैं शिव हूँ।
Kisi ne kaha loha

Kisi ne kaha loha

किसी ने कहा लोहा हैं हम, किसी ने कहा फौलाद हैं हम, वहां भाग दौड मच गई, जब हमने कहा महाकाल के भक्त हैं हम।
Yah keh kar mere

Yah keh kar mere

यह कह कर मेरे दुश्मन मुझे छोड़ गए की, ये तो महाकाल का भक्त हैं, पंगा लिया तो महादेव नंगा कर देंगे।।
Jab iss duniya

Jab iss duniya

जब इस दुनिया से मेरी विदाई तो इतनी मोहलत मेरी सांसो को देना एक बार और महाकाल कह लेने देना।