तू वो ज़ालिम है जो दिल

तू वो ज़ालिम है जो दिल में रह कर भी मेरा न बन सका… और दिल वो काफिर जो मुझमे रह कर भी तेरा हो गया.