Toofan waha tabhi haarte hai jab kashtiyan apni

” तूफान वहां तभी हारते हैं

जब कश्तियां अपनी जिद पर होती है। “