Tag: pyar-mohabbat-ki-kahani-shayari


Dhadkane Meri Bechain Rahte Hai

धड़कने मेरी बेचैन रहती है आजकल, क्योंकि तेरे बगैर यह धड़कती कम और तड़पती ज्यादा है