Category: Bholenath Status


Na pucho mujhse

Na pucho mujhse

ना पूछो मुझसे मेरी पहचान, मैं तो भस्मधारी हूँ,भस्म से होता जिनका श्रृंगार, मैं उस भोलेनाथ का पुजारी हूँ।
Jinke rom-rom

Jinke rom-rom

जिनके रोम-रोम में शिव हैं, वहीं विष पिया करते हैं,जमाना उन्हें क्या जलायेंगा, जो श्रृंगार ही अंगार से करते हैं।
Na jeene ki khushi

Na jeene ki khushi

ना जीने की खुशी, ना मौत का गम,जब तक हैं दम, महादेव के भक्त रहेंगे हम।
Shav hu mai

Shav hu mai

शव हूँ मैं भी शिव बिना, शव में शिव का वास,शिव मेरे आराध्य हैं, मैं हूँ शिव का दास ॥
Naach rahe dumru

Naach rahe dumru

नाच रहे ड़मरू की ताल पर शिवशंम्भु,त्रिशुलधारी गंगाधर बाबा महाकाल सर्वेशु।
Mastak Sohe

Mastak Sohe

मस्तक सोहे ‪चन्द्रमा‬, गंग ‪‎जटा‬ के बीच,श्रद्धा‬ से ‪‎शिवलिंग‬ को, निर्मल जल मन से सीच।