Shok unche

शोक उचे हैं, रुतबा ऊँचा हैं, राम भक्तो के आगे ये ज़माना झुकता हैं।