Nafrat Karo Unse Jo Bhulana Jante Ho

Dosti shayari, shayari on dosti

नफरत करो उनसे जो भुलाना जानते हो,
रूठों उनसे जो मनाना जानते हो,
प्यार करो उनसे जो निभाना जानते हो,
दोस्ती उन से जो दिल लुटाना जानते हो!!