Na bhawanao se na

ना भावनाओं से ना संविधान से,
देश चलेगा तो सिर्फ गीता पुराण से। जय हिंदुत्व