Mitati hai kisi ko banati hai kisi ko

|| मिटातीं है किसी को .. बनातीं है किसी को ..
मोहोब्बतें भी आजकल की.. सियासी हो गयीं हैं ||