Jo Cheej Kho Gayi Thi

Jo Cheej Kho Gayi Thi, , father shayari best lovesove

जो चीज खो गई थी मैंने उसे और खोते देखा है मैं दुखी नहीं हूँ जनाब,
सूरबी हूँ क्योकि मैंने अपने बाप को कौने में बैठे छुप – छुप कर रोते
देखा है